Adrak Khane Ke Fayde Aur Nuksan

Adrak khane ke fayde in Hindi: अदरक के कई फायदे और नुकसान हैं। अदरक कार्बोहाइड्रेट से भरपूर होता है, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है। अदरक कमजोरी को भी दूर करता है, साथ ही अदरक में पाए जाने वाले पाचक एंजाइमों को भी दूर करता है, जो एसिडिटी के दौरान खेलने पर काफी राहत देता है।

Adrak khane ke fayde aur nuksan in Hindi

अदरक संक्रमण से लड़ने में मदद करता है। रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए अदरक को भी आहार में शामिल किया जा सकता है।

Adrak khane ke fayde – अदरक के फायदे

सर्दी-खांसी में अदरक बहुत उपयोगी होता है जो हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है। यही कारण है कि अदरक सर्दी, खांसी और फ्लू के लिए एक प्रसिद्ध उपाय है। अदरक में कुछ ऐसे गुण होते हैं जो सर्दियों में भी हमारे शरीर को गर्म रखने में मदद करते हैं। अदरक में ये गुण होते हैं जो हमारे स्वास्थ्य और सर्दी के लिए अच्छे होते हैं क्योंकि यह बैक्टीरिया और फंगस जैसे संक्रमणों से लड़ने में मदद करता है।

अदरक हमारे पाचन तंत्र में भी मददगार होता है, जो हमारे पेट की पाचन समस्याओं को दूर करने में भी मददगार होता है। खाने से पहले अदरक में नमक छिड़कने से लार बढ़ती है, जिससे हमारे पाचन में मदद मिलती है। यह पेट फूलने को दूर करता है और सूजन को रोकता है। अदरक पेट के दर्द में भी राहत देता है.अगर पेट की समस्या से परेशान है तो उसे अदरक का सेवन अधिक करना चाहिए. भारी भोजन के बाद अदरक की चाय पीने से सूजन नहीं होती है।

अदरक जोड़ों के दर्द में भी सहायक होता है अदरक में जिंजरोल नामक एक अत्यधिक प्रभावी तत्व पाया जाता है, जो जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द को कम करता है। वैज्ञानिक शोध के अनुसार अदरक जोड़ों के दर्द में कारगर माना जाता है। अदरक व्यायाम से होने वाली सूजन और मांसपेशियों के दर्द को भी कम करता है। गठिया के शुरुआती दौर में अदरक बहुत कारगर होता है।

अदरक माइग्रेन के दर्द को भी कम करता है। ईरान में आयोजित एक शोध पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि अदरक के पाउडर को माइग्रेन के इलाज में उतना ही प्रभावी माना जाता है, जितना कि माइग्रेन की सामान्य दवा। माइग्रेन की शुरुआत में अदरक की चाय पीने से प्रोस्टाग्लैंडिन्स कम हो जाते हैं और दर्द से राहत मिलती है।

अदरक पीरियड्स के दर्द से जुड़े दर्द को कम करने में भी मददगार होता है। मासिक धर्म के दौरान अदरक का दर्द दूर होता है। ईरान में किए गए एक अध्ययन ने 80 महिलाओं और लड़कियों को दो समूहों में बांटा। एक समूह को जिंजर कैप्सूल और दूसरे समूह को प्लेसीबो दिया गया। दोनों को ये चीजें उनके मासिक धर्म के पहले तीन दिनों के लिए दी गई थीं। शोधकर्ताओं ने बताया कि अदरक के कैप्सूल लेने वाली 82.85 प्रतिशत महिलाओं ने मासिक धर्म में कम दर्द की सूचना दी, जबकि 47.05 प्रतिशत महिलाओं ने प्लेसबो लिया।

अदरक को कैंसर में भी फायदेमंद पाया गया है। इसके कारगर परिणाम देखने को मिले हैं। अदरक को स्तन कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर और पेट के कैंसर के इलाज में भी बेहद प्रभावी दिखाया गया है। अदरक खाने का यह भी फायदा है कि यह दवा के रूप में देने में आसान है और इसमें कोई नुकसान भी नहीं है। अदरक दवा से सस्ता है।

Adrak khane ke nuksan

कुछ मामलों में, अदरक खाने से सांस की तकलीफ, गले में खराश, होंठ और जीभ में सूजन, खुजली और जलन जैसी गंभीर एलर्जी हो सकती है, जो अदरक खाने से हो सकती है। . ऐसे में अदरक का सेवन तुरंत बंद कर देना चाहिए और किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह लेकर ही अदरक का सेवन करना चाहिए।

अदरक की चाय का अगर पांच कप से अधिक सेवन किया जाए तो सिरदर्द, उल्टी, दस्त, तेज दिल की धड़कन जैसी कई समस्याएं हो सकती हैं।

अगर हम अदरक का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं तो इससे चेहरे पर जलन, तेज डकार आदि जैसी गंभीर समस्याएं भी हो सकती हैं।

जिन लोगों को थकान होती है उनके लिए भी अदरक हानिकारक हो सकता है। यह सर्जरी को प्रभावित कर सकता है और रक्तस्राव और धीमी गति से उपचार के जोखिम को बढ़ा सकता है। इसलिए सर्जन सलाह देते हैं कि मरीजों को अपने आहार से एक सप्ताह पहले अदरक खाने से बचना चाहिए।

यहाँ और पढ़ें :  ‎anjeer-gun-fayde-in-hindi

यहाँ और पढ़ें : beauty-tips-for-face

Leave a Reply

Your email address will not be published.