Oily Skin Care Tips in Hindi

Oily skin care routine in hindi: अगर त्वचा ऑयली या तैलीय हो जाती है, तो विशेष देखभाल की आवश्यकता होती है। आपकी त्वचा कैसी दिखती है यह तीन बातों पर निर्भर करता है।

ये तीन कारक लिपिड स्तर, पानी और संवेदनशीलता हैं। तैलीय त्वचा का मतलब है कि आपकी त्वचा में लिपिड का उच्च स्तर है। हालांकि, तैलीय त्वचा के हार्मोनल परिवर्तन के कारण होने की संभावना अधिक होती है। कई बार ऑयली स्किन के लिए लाइफस्टाइल भी जिम्मेदार होता है।

Oily skin in Hindi

कफ दोष तैलीय त्वचा के लिए जिम्मेदार होता है। तैलीय त्वचा मोटी होती है और इसमें बड़े छिद्र होते हैं। लेकिन रूखी और सामान्य त्वचा की तुलना में तैलीय त्वचा पर झुर्रियां बाद में दिखाई देती हैं।

इसे कफ वाली त्वचा भी कहा जा सकता है। अतिरिक्त तेल के कारण यह जल्दी से गंदगी और धूल जमा करता है, जिससे रोम छिद्र फंसने की संभावना रहती है, इसलिए इस त्वचा में मुंहासे, ब्लैकहेड्स, व्हाइटहेड्स होने का खतरा अधिक होता है।

त्वचा की प्रकृति जन्म से ही होती है, इसलिए तैलीय त्वचा को विशेष देखभाल की आवश्यकता होती है। आम तौर पर, यदि किसी व्यक्ति की त्वचा जन्म से ही तैलीय, शुष्क या सामान्य है, तो कुछ शर्तों को छोड़कर, यह वैसी ही रहती है; सामान्य त्वचा मखमली होती है, बिना मुंहासे और यहां तक ​​कि रंग में भी आपकी तैलीय त्वचा से अधिकतम लाभ उठाने में आपकी मदद करने के लिए यहां कुछ युक्तियां दी गई हैं।

यहाँ और पढ़ें : mama-protinex-powder-uses-in-hindi

यहाँ और पढ़ें : indulekha-oil-use-in-hindi

Oily Skin Care Tips in Hindi

तैलीय त्वचा के त्वचा पर पड़ने वाले प्रभाव को रोकने के लिए इन मुद्दों पर ध्यान देना जरूरी है।

  • जिनकी त्वचा ऑयली है उन्हें बाहर से आकर अपने चेहरे को अच्छे से साफ करना चाहिए।
  • चेहरे को अच्छी तरह से मॉइस्चराइज़ करें ताकि नमी संतुलित आकार में रहे।
  • जंक फ़ूड या ज़्यादा तेल और मसालेदार खाना न खाएं।
  • नियमित रूप से व्यायाम करें और सांस लें।
  • चेहरे को धूल और धूप से बचाएं।
  • अपने चेहरे को दिन में 3-4 बार ताजे पानी से धो लें।

Home Remedies For Oily Skin In Hindi

तैलीय त्वचा के लिए बाजार में कई तरह के उपचार उपलब्ध हैं। आप चाहें तो यह सब कर सकते हैं, लेकिन हर कोई इसे नियमित रूप से वहन नहीं कर सकता। बेहतर होगा कि पुरानी आदत के अनुसार घर पर ही इलाज करें।

इसका असर देर से होता है, लेकिन इसका असर अंदर से होता है। कुछ समय बाद आपकी समस्या जड़ से खत्म हो जाएगी। आपकी तैलीय त्वचा की देखभाल के लिए कोई घरेलू उपचार नहीं है।

शहद: शहद एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक होता है। इसे खाने में जितना स्वाद आता है, मुंह में उतना ही ज्यादा फायदा मिलता है। शहद में क्लींजिंग गुण होते हैं, जो त्वचा को अंदर से बाहर तक साफ करते हैं। दूध और बादाम का पेस्ट मिलाकर चेहरे पर लगाएं, 10 मिनट में चेहरे पर दिखाई देने लगेगा।

नींबू: नींबू विटामिन-सी से भरपूर होता है। साइट्रिक एसिड होने के कारण यह एक कसैले के रूप में कार्य करता है। एक कॉटन बॉल में नींबू का रस और डिस्टिल्ड वॉटर मिलाएं और इसे चेहरे पर कुछ देर के लिए लगाएं। इस प्रक्रिया को हफ्ते में कम से कम दो बार करें। त्वचा बच्चे की त्वचा जैसी हो जाएगी।

हल्दी:  पीला जीवाणुरोधी। आप जानते ही होंगे कि हमारे बड़े शरीर पर चोट लगने की स्थिति में हमें हल्दी वाला दूध पीने की सलाह दी जाती है। किसी भी तरह के संक्रमण से बचाने के लिए हल्दी के पेस्ट को चोट वाली जगह पर भी लगाया जाता है। हल्दी और दूध का मिश्रण तैलीय त्वचा के लिए एंटीडोट का काम करता है। अगर आपकी त्वचा बहुत ऑयली है तो इसमें गुलाब जल मिलाएं। यह आपकी त्वचा को टोन करेगा और उसमें निखार लाएगा।

ओटमील:  दही की तरह ओटमील त्वचा और सेहत दोनों के लिए अच्छा होता है। यह सीबम के अत्यधिक उत्पादन को रोकने में सक्षम है। यह एक एंटीऑक्सीडेंट और विरोधी भड़काऊ है। यह एक बेहतरीन फेस स्क्रब भी है। तैलीय त्वचा के लिए ग्रीन टी को पानी में मिलाकर लगाएं। हफ्ते में दो बार लगाने से आपकी तैलीय त्वचा में निखार आएगा।

दही: सिर्फ खाने में ही नहीं बल्कि लगाने के लिए भी दही सबसे अच्छा फेस पैक है। इसे सामान्य से लेकर रूखी और तैलीय त्वचा पर लगाया जा सकता है, लेकिन यह तैलीय त्वचा के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है। आपको बता दें कि इसमें मौजूद लैक्टिक एसिड त्वचा को ऑयल फ्री रखने के साथ-साथ उसमें चमक भी लाता है। तैलीय त्वचा वाले लोग इसमें बेसन मिलाकर लगाएं, तो त्वचा पतली और जवां बनी रहेगी।

Oily Skin Prevention Care Tips In Hindi

  • तैलीय त्वचा से बचने के लिए रोजाना सादे पानी से अपना चेहरा धोएं।
  • नीम का पैक आपकी त्वचा के लिए सबसे अच्छा है।
  • फेसपैक के बाद हमेशा आइस क्यूब लगाएं। यह चेहरे की चर्बी को दूर करने में मददगार साबित होगा।
  • चेहरे को मुलायम और चमकदार बनाए रखने के लिए ऑयल-फ्री मॉइस्चराइजर लगाएं।
  • जब भी बाहर जाएं हमेशा सनस्क्रीन लगाएं।
  • साथ ही खान-पान पर भी ध्यान देना होगा। तली हुई चीजें कम खाएं और नमक और चीनी से परहेज करें।

यहाँ और पढ़ें : adrak-khane-ke-fayde-aur-nuksan

यहाँ और पढ़ें : kacha-adrak-khane-ke-fayde-in-hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.