What Is Sesame Seeds In Hindi

Sesame Seeds in hindi: क्या आप जानते हैं Sesame Seeds और तिल का तेल खाने के फायदे? तिल का आकार भले ही छोटा हो लेकिन इसे खेलने से शरीर स्वस्थ रहता है और कई बीमारियों से लड़ने में मदद मिलती है।

तिल के बीज जीनस सेसमम के एक पौधे से प्राप्त होते हैं और इन्हें सेसमम इंडिकम नाम दिया गया है। तिल की फसल को दुनिया की सबसे पुरानी तेल फसलों में से एक माना जाता है।

भारत तिल का सबसे बड़ा उत्पादक देश माना जाता है। इसके अलावा जापान, अफ्रीका, चीन समेत अन्य देश हैं जहां तिल की खेती की जाती है। आज के इस पोस्ट में हम Sesame seeds in hindi, sesame oil in hindi के बारे में जानेंगे।

What is Sesame Seeds in Hindi

Sesame seeds in hindi name, तिल एक प्रकार का छोटा बीज होता है जो आपको लगभग हर घर के किचन में मिल जाएगा। इसका उपयोग कई खाद्य पदार्थों को स्वादिष्ट बनाने के लिए किया जाता है।

इसका उपयोग कई बीमारियों के घरेलू उपचार के रूप में भी किया जाता है। तिल के पेड़ की लंबाई लगभग 30-50 सेमी होती है। हल्की बलुई और दोमट मिट्टी तिल की खेती के लिए अच्छी होती है।

तिल में फाइबर, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और अन्य पोषक तत्व होते हैं जो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं।

Types of Sesame Seeds In Hindi

तिल मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं, सफेद तिल और काले तिल। तो आइए इन दो प्रकार के तिलों के बारे में और जानें।

White sesame seeds in hindi

Sesame seed सफेद रंग का दिखता है, सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। तिल का उपयोग कुकीज और लड्डू बनाने के साथ-साथ तेल के रूप में भी किया जाता है।

यह कृषि किसानों के साथ किराने की दुकानों में आसानी से मिल सकता है। 1 किलो सफेद तिल की कीमत (sesame seeds price in Hindi) करीब 150-200 रुपये होती है।

Black sesame seeds in hindi

सफेद तिल की तुलना में काले तिल का प्रयोग औषधि में अधिक किया जाता है। काले तिल एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होते हैं, जो स्वस्थ हृदय और मजबूत हड्डियों के लिए प्रभावी होते हैं।

1 किलो काले तिल की कीमत(sesame seeds price hindi) 180-220 रुपये के आसपास होती है।

How to Use Sesame Seeds in Hindi

आइए जानें कि तिल के बीज का बेहतर स्वास्थ्य लाभ के लिए कैसे उपयोग किया जा सकता है।

  • तिल को मुरुक्कू के साथ मिलाकर सेवन किया जा सकता है।
  • तिल का इस्तेमाल तंदूरी नान और कुलचा बनाने के लिए किया जाता है।
  • आप सलाद में तिल की थोड़ी सी मात्रा भी खा सकते हैं।
  • आप थोड़े से तिल के साथ लड्डू और कुकीज भी डाल सकते हैं।
  • तिल के तेल से मालिश करने से कई रोग, रक्त रोग, कमर दर्द, मालिश, गठिया दर्द ठीक हो जाता है।
  • तिल को पीसकर पेस्ट बना लें, अब इसे जले हुए स्थान पर लगाने से जलन और दर्द कम होता है।
  • सिर दर्द से राहत पाने के लिए तिल के पत्तों को सिरके या पानी में पीसकर सिर की त्वचा पर लगाएं।
  • एक स्क्वैश छीलें, इसे कद्दूकस करें और रस निचोड़ें। अब इस पेस्ट को मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए चेहरे पर लगाएं।
  • चोट लगने और मोच आने पर तिल की खली को पानी में पीसकर हल्का गर्म करने से आराम मिलता है।
  • तिल की गठरी बनाकर घाव वाली जगह पर बांधने से घाव जल्दी भर जाता है।

Side Effects of Sesame Seeds in Hindi

अब हम जानते हैं कि तिल के अधिक सेवन से क्या नुकसान होते हैं।

  • बहुत अधिक तिल खाने से कुछ लोगों में एलर्जी हो सकती है।
  • तिल के मधुमेह विरोधी प्रभाव होते हैं, इसलिए कम चीनी वाले व्यक्ति में शर्करा का स्तर कम हो सकता है।
  • अगर किसी को कोई गंभीर बीमारी है जिसके लिए वह कोई दवा ले रहा है तो उसे तिल खाने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

Sesame seeds benefits in hindi

तिल के बीज प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, विटामिन बी, विटामिन ई और कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं, जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। तिल के मुख्य स्वास्थ्य लाभों में शामिल हैं-

1: तिल से सांसों की दुर्गंध दूर करें

तिल के तेल में कई विशेष तत्व होते हैं जो कई बैक्टीरिया और प्लाक को मारते हैं, जो आमतौर पर सांसों की दुर्गंध का कारण बनते हैं। तिल के तेल से गरारे करना एक प्राचीन तकनीक है जिसका उपयोग आज भी किया जाता है।

2: संक्रमण से लड़ने में तिल की मदद करें

तिल में कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो कई तरह के इन्फेक्शन से लड़ने में मदद करते हैं। तिल को आमतौर पर गले और पैरों के संक्रमण से लड़ने में कारगर माना जाता है।

3: तिल के बीज मधुमेह के लक्षणों को कम करने में मदद करते हैं

तिल के बीज में कई शक्तिशाली तत्व होते हैं, जो शरीर की इंसुलिन बनाने की क्षमता में सुधार करते हैं। वहीं तिल में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मदद करते हैं, जिससे डायबिटीज के लक्षणों को प्रभावी ढंग से कम किया जा सकता है।

4.हृदय को स्वस्थ रखे तिल

तिल के बीज में लिग्नान और फाइटोस्टेरॉल नामक विशेष यौगिक होते हैं, जो खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं। एलडीएल जैसे हानिकारक कोलेस्ट्रॉल के निम्न स्तर को बनाए रखने से हृदय को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है।

5: कैंसर से लड़ने में मदद करते हैं तिल के बीज

तिल में मौजूद फाइटोस्टेरॉल नामक एक विशेष यौगिक न केवल खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है बल्कि कुछ प्रकार के कैंसर से लड़ने के लिए प्रतिरक्षा प्रणाली को भी उत्तेजित करता है। इस प्रकार तिल का नियमित सेवन कुछ प्रकार के कैंसर के खतरे को कम करता है।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है कि आपको यह पोस्ट (Sesame Seeds in Hindi) पसंद आई होगी। अगर आपके पास तिल के तेल के बारे में कोई सवाल या सुझाव है तो आप नीचे कमेंट कर सकते हैं।

इनके अलावा इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करें ताकि अन्य लोगों को फायदों मिले और आप जो चाहते हैं उसे खाने के फायदों के बारे में सही जानकारी प्राप्त करें।

यहाँ और पढ़ें : Neend Ki Tablet Name In Hindi

Tablet For Gas And Acidity In Hindi

Maca Root Capsule Benefits In Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.