Sukanya Samriddhi Yojana Kya Hai in Hindi

Post Office Sukanya Samriddhi Yojana: 22 जनवरी 2015 को भारत सरकार ने लड़कियों के उज्जवल भविष्य के लिए सुकन्या समृद्धि योजना शुरू की। भारत में जहां बेटियों का स्थान बेटों से कम माना जाता है, वहां यह परियोजना एक सराहनीय कदम है।

अगर आप एक लड़की के पिता हैं तो आप इस लेख को पढ़ने के लिए उत्साहित होंगे। भले ही आप एक जागरूक निवेशक न हों। आपको इस योजना के बारे में पता होना चाहिए।

जो लोग बेटी को एक बड़ी जिम्मेदारी के रूप में देखते हैं, वे अपनी बचत की आदत से इस जिम्मेदारी को आसानी से उठा सकते हैं। तो आइए जानते हैं Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi के बारे में।

सुकन्या समृद्धि योजना क्या है? Sukanya Samriddhi Yojana Details in Hindi

सुकन्या समृद्धि योजना भारत सरकार की एक परियोजना है। परियोजना “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” परियोजना के तहत शुरू की गई थी। इसका उद्देश्य बेटियों की शिक्षा और शादी के लिए फंड तैयार करना है।

अगर आप शुरू से ही अपनी बेटी के लिए धीरे-धीरे पैसा जोड़ना शुरू कर देंगे तो आपको जरूरत के समय किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

इस योजना में थोड़ी सी राशि जमा करके अच्छी खासी इकट्ठा की जा सकती है। अगर आप शेयर बाजार में अपना पैसा लगाकर जोखिम नहीं लेना चाहते हैं तो यह योजना आपके लिए सबसे अच्छी है।

सुकन्या समृद्धि खाते के फायदे

यह खाता आपको सर्वोत्तम लाभ देता है और आपको अपनी बेटी के उज्ज्वल भविष्य के लिए सुकन्या समृद्धि खाता जरूर खुलवाना चाहिए।

बहुत कम जमा की आवश्यकता – प्रत्येक वर्ष केवल ₹ 250 ही खाते में जमा किए जा सकते हैं। ताकि आर्थिक रूप से कमजोर लोग भी इस खाते का लाभ उठा सकें।

पूरी तरह से टैक्स फ्री – सुकन्या समृद्धि खाता पूरी तरह से टैक्स फ्री है। तो इसकी वापसी के मायने भी बढ़ जाते हैं।

आकर्षक ब्याज दर – इस योजना की ब्याज दर अन्य सरकारी योजनाओं की तुलना में बहुत अच्छी है। जैसे – पीपीएफ, Fixed जमा

बेटी का उज्ज्वल भविष्य – सुकन्या समृद्धि योजना खाते में पैसे जमा करके आप अपनी बेटी की पढ़ाई और शादी का खर्चा उठा सकते हैं।

कोई जोखिम नहीं – सरकारी योजना होने के नाते, कोई जोखिम नहीं है। आपका पैसा पूरी तरह से सुरक्षित है।

समय से पहले निकासी – ऊपर बताई गई कुछ विशेष स्थितियों में समय से पहले निकासी भी की जा सकती है।

खाता आसानी से हस्तांतरणीय – इस खाते को देश में कहीं भी डाकघर से बैंक या बैंक से डाकघर में आसानी से स्थानांतरित किया जा सकता है।

Sukanya Samriddhi Yojana खाता कौन खोल सकता है?

सुकन्या समृद्धि योजना में खाता बेटी के माता-पिता या बेटी के कानूनी अभिभावक द्वारा 10 वर्ष की आयु तक पहुंचने से पहले खोला जा सकता है। 10 साल की उम्र तक पहुंचने के बाद खाता खुलवाना संभव नहीं होगा।

एक बेटी के लिए एक ही सुकन्या समृद्धि खाता हो सकता है। एक परिवार में दो बेटियों के लिए अधिकतम दो खाते हो सकते हैं। दूसरे जन्म में 2 जुड़वां बच्चे पैदा होने पर अधिकतम तीन खाते खोले जा सकते हैं। कोई भी एनआरआई (NRI) इस खाता को खोलने के लिए पात्र नहीं है।

सुकन्या समृद्धि खाता कहाँ खोलें? Post Office Sukanya Samriddhi Yojana

यह खाता वर्तमान में ऑनलाइन नहीं खोला जा सकता है। सुकन्या समृद्धि खाता आप डाकघर या किसी भी बैंक शाखा के माध्यम से खोल सकते हैं। यह खाता केवल 250 से खोला जा सकता है। इस अकाउंट को किसी भी पोस्ट ऑफिस से बैंक या बैंक से पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर किया जा सकता है।

Sukanya Samriddhi Yojana के लिए स्वीकृत बैंक

सुकन्या समृद्धि योजना खाते खोलने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा कुल 28 बैंकों को मंजूरी दी गई है। उपयोगकर्ता निम्नलिखित में से किसी भी बैंक में PM Kanya Yojana या SSY खाता खोल सकते हैं।

  • Punjab And Sind Bank (PSB)
  • Indian Bank
  • Bank Of Maharashtra (BOM)
  • Bank Of India (BOI)
  • Corporation Bank
  • Central Bank Of India (CBI)
  • Canara Bank
  • Dena Bank
  • Punjab National Bank (PNB)
  • IDBI Bank
  • ICICI Bank
  • Syndicate Bank
  • Union Bank of India
  • UCO Bank
  • State Bank Of Mysore (SBM)
  • Indian Overseas Bank (IOB)
  • State Bank Of Hyderabad (SBH)
  • United Bank Of India
  • Vijay Bank
  • Allahabad Bank
  • State Bank Of India (SBI)
  • axis Bank
  • Andhra Bank
  • State Bank Of Bikaner And Jaipur (SBBJ)
  • State Bank Of Travancore (SBT)
  • Oriental Bank Of Commerce (OBC)
  • Bank Of Baroda (BOB)
  • State Bank Of Patiala (SBP)

यहाँ और पढ़ें : aadhar-card-se-paise-kaise-nikale-in-hindi

यहाँ और पढ़ें : sovereign-gold-bond-scheme-kya-hai-in-hindi

Sukanya Samriddhi Yojana खाता खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • सुकन्या समृद्धि योजना फॉर्म (खाता खोलने का फॉर्म)
  • बेटी का जन्म प्रमाण पत्र
  • माता-पिता की पहचान और पते का प्रमाण

सुकन्या समृद्धि योजना लोन

सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न पीपीएफ योजनाओं के तहत लोन लिया जा सकता है। लेकिन सुकन्या समृद्धि योजना के तहत अन्य पीपीएफ योजनाओं की तरह लोन नहीं मिलेगा।

लेकिन अगर बालिका 18 साल की हो जाती है, तो माता-पिता इस योजना के खाते से पैसे निकाल सकते हैं। यह निकासी केवल 50% हो सकती है। बच्चे की बेहतरी के लिए सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बेटी को निकाला जा सकता है। इस पैसे का उपयोग बेटी की शादी, उच्च शिक्षा आदि के लिए किया जा सकता है।

Sukanya Samriddhi Yojana में कितना पैसा जमा किया जा सकता है?

प्रत्येक वित्तीय वर्ष में सुकन्या समृद्धि योजना खाते में न्यूनतम ₹250 और एक वर्ष में अधिकतम ₹1.5 लाख जमा करना आवश्यक है। इस खाते में आपको खाता खोलने के साल से 15 साल तक पैसा जमा करना होगा।

इस खाते में आप 100 तक जमा कर सकते हैं। आप अपने बैंक को अपना पैसा जमा करने के लिए एक स्थायी निर्देश दे सकते हैं कि एक निश्चित तिथि पर आपके बैंक खाते से एक निश्चित राशि आपके सुकन्या समृद्धि खाते में स्थानांतरित कर दी जाती है। इससे आपको बार-बार पैसे जमा करने की समस्या से निजात मिल जाएगी। बाद में आप चाहें तो इस राशि को बढ़ा या घटा सकते हैं।

Sukanya Samriddhi Yojana खाते में पैसे कैसे जमा करें

सुकन्या समृद्धि योजना 2021 खाता डाकघर या बैंक में नकद, डिमांड ड्राफ्ट या इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर मोड में जमा किया जा सकता है। जहां कोर बैंकिंग सिस्टम उपलब्ध है। इन सभी आसान तरीकों से कोई भी अपनी बेटी के खाते में पैसे जमा कर सकता है।

Sukanya Samriddhi Yojana Interest Rate Hindi – सुकन्या समृद्धि योजना ब्याज दर

सुकन्या समृद्धि योजना खाते पर ब्याज दर भारत सरकार द्वारा तिमाही तय की जाती है। सुकन्या समृद्धि योजना की ब्याज दर पीपीएफ से 0.5% अधिक है। वर्तमान में सुकन्या समृद्धि योजना खाते पर ब्याज दर 7.6% है।

योजना की अवधि – Sukanya Samriddhi Yojana Scheme in Hindi

इस प्रोजेक्ट का मकसद बेटी की पढ़ाई और शादी के लिए फंड बनाना है। इसलिए सुकन्या समृद्धि योजना की परिपक्वता अवधि 21 वर्ष रखी गई है। खाता खोलने की तारीख से 15 साल के लिए पैसा जमा करना होगा। 15 साल बाद अगले 6 साल तक कोई पैसा जमा नहीं करना होगा और जमा की गई राशि पर ब्याज मिलता रहेगा।

प्री-मैच्योर खाता बंद

हालांकि सुकन्या समृद्धि योजना खाता 21 साल के लिए लॉक-इन है। लेकिन कुछ विशेष परिस्थितियों में यह खाता समय से पहले बंद हो सकता है।

यदि किसी कारण से खाताधारक (बेटी) की मृत्यु हो जाती है। तो खाता समय से पहले बंद किया जा सकता है। इसके लिए खाताधारक का मृत्यु प्रमाण पत्र जमा करना होगा। इसमें जमा की गई पूरी राशि ब्याज सहित खाताधारक के अभिभावक को दी जाती है।

माता-पिता या अभिभावक की मृत्यु पर वित्तीय बोझ के कारण सुकन्या समृद्धि परियोजना खाता भी बंद किया जा सकता है।

खाताधारक की नागरिकता बदलने की स्थिति में, खाता समय से पहले बंद किया जा सकता है। लेकिन यहां भी खाता खोलने के लिए आपके पास कम से कम 5 साल होने चाहिए।

लड़की की लाइलाज बीमारी के मामले में, पैसे की जरूरत के मामले में खाता बंद किया जा सकता है।

यहाँ और पढ़ें : education-loan-kaise-le-in-hindi

समय से पहले विड्रोल

हम में से ज्यादातर लोग ऐसी योजना पसंद करते हैं जिसमें कोई लॉक-इन अवधि न हो। लेकिन यह भी सच है कि बिना लॉक-इन अवधि के योजना में बड़ी राशि जमा नहीं होती है।

जब लड़की 18 वर्ष की हो जाती है, तो खाते में जमा राशि का 50% उसकी शादी या उसकी उच्च शिक्षा के लिए निकाला जा सकता है। बचे हुए पैसे को आप 21 साल पूरे करने के बाद ही निकाल पाएंगे।

सुकन्या समृद्धि खाते पर कितना टैक्स लगता है – Sukanya Samriddhi Yojana Calculator in Hindi

इस परियोजना को कई कर लाभ दिए गए हैं क्योंकि यह भारत सरकार की बेटी कल्याण योजना से संबंधित है। सुकन्या समृद्धि खाते में किए गए निवेश का दावा माता-पिता आयकर अधिनियम की धारा 80 (सी) के तहत कर सकते हैं। PPF की तरह यह निवेश भी E.E.E में आता है।

  • निवेश कर मुक्त
  • मिलने वाला ब्याज कर मुक्त है
  • मैच्योरिटी पर मिलने वाली कर मुक्त है
  • PM Kanya Yojana में पूर्ण निवेश कर मुक्त है।

निष्कर्ष

मध्यम वर्ग या आर्थिक रूप से पिछड़े परिवारों में लड़कियां अधिक जिम्मेदार होती हैं। आर्थिक तंगी के कारण लड़कियां पढ़ाई नहीं कर सकती हैं। इसलिए भारत में महिला शिक्षा की दर बहुत कम है।

लेकिन  Sukanya Samriddhi Yojana (सुकन्या समृद्धि योजना) में खाता खोलकर आप अपनी लड़कियों के सपनों को साकार कर सकते हैं।

यदि आपके पास सुकन्या समृद्धि योजना खाते से संबंधित कोई प्रश्न हैं, तो आप हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते हैं।

यहाँ और पढ़ें : student-credit-card-west-bengal-2021-in-hindi

यहाँ और पढ़ें : pan-card-loan-yojana

Leave a Reply

Your email address will not be published.