Lifestyle Tips in Hindi – बेहतर और हेल्दी जीवन के लिए टिप्स

lifestyle tips in hindi – जीवन में सबसे मुश्किल काम आसान है, असंतुलित है, लेकिन असंभव नहीं है। यदि आप कुछ छोटी चीजों को अपनी दिनचर्या और जीवन का हिस्सा बनाते हैं तो आप उन्हें अपनी आदतों में शामिल कर लेंगे, लेकिन जीवन न केवल बेहतर दिखाई देगा, बल्कि स्वस्थ भी रहेगा। यहां कुछ उपाय दिए गए हैं जो आपके जीवन को बेहतर बनाएंगे।

  • सुनिश्चित करें कि आप और आपकी सभी चीजें हमेशा व्यवस्थित हैं। बहुत से लोग खुद को बहुत व्यस्त रखते हैं और घर, ऑफिस डेस्क को भी व्यस्त रखते हैं, जिससे न केवल उन्हें चिंता होती है, बल्कि लोगों पर उनका प्रभाव भी अच्छा नहीं होता है।
  • खुद को बहुत अधिक बुद्धिमान साबित करने के लिए दूसरों को अनावश्यक सलाह न दें। सलाह देने के बजाय उनकी समस्या को सुनें, उसे समझें और यथासंभव मदद करें।
  • स्वयं से प्रेम करना सीखो। दूसरों की तरह बनने या उनकी नकल करने की कोशिश में अपनी पहचान न खोएं। आप जो भी हैं, आप अपनी गलतियों को सुधारने के लिए अच्छे हैं, लेकिन खुद को कम मत समझिए।
  •  खुलकर हंसें ताकि आपकी मुस्कान दबाव में गायब न हो। खुलकर हंसने से फेफड़ों का लचीलापन बढ़ता है और उन्हें ताजी हवा मिलती है।
  • हर दिन ध्यान करें। यह एकाग्रता को बढ़ाता है और आपको तरोताजा महसूस कराता है।
  • अपनी भावनाओं और मनोदशा को नियंत्रित करने का प्रयास करें। बहुत गुस्सा मत करो, बहुत उदास या दुखी मत हो।
  • अतीत में नहीं फंसना चाहिए। हमेशा आगे की सोचो।
  • झूठ बोलने से बचें। बहुत से लोग खुद की झूठी तारीफ करते हैं या यहाँ तक कि रिश्तों के बारे में झूठ बोलते हैं, जिससे भविष्य में आपके रिश्ते खराब हो सकते हैं और साथ ही आपके बारे में लोगों की राय भी बदल सकती है। कोई आप पर विश्वास नहीं करेगा।

Lifestyle Tips in Hindi – बेहतर और हेल्दी जीवन के लिए टिप्स

  • यह भी स्वीकार करें कि आप सही नहीं हैं और आप गलतियाँ कर सकते हैं। अपनी गलतियों का पालन करें और सॉरी कहना सीखें।
  • हर दिन खुद को बेहतर बनाने की कोशिश करें। हर कोई कुछ न कुछ सीख सकता है। दूसरों से और अपनी गलतियों से सीखें और खुद को एक बेहतर इंसान बनाने की कोशिश करें।
  • अपने गुणों और शौक पर ध्यान दें। अपनी सकारात्मक बातों को लोगों के सामने लाएं।
  • हमेशा दूसरों की मदद के लिए तैयार रहें। इससे आपके मन में आत्मविश्वास और संतुष्टि बढ़ेगी।
  • कभी-कभी खुद को असिद्ध करना बहुत अच्छा होता है। अपने लिए समय निकालें। पूरा दिन छुट्टी पर बिताएं जैसा आप चाहें। पैदल चलें, खरीदारी करें या मूवी देखें। यह आपको तरोताजा कर देगा
  • जीवन में हर चीज नहीं मिलती। आपको जो कुछ भी नहीं मिला उसकी उम्मीद में रोने के बजाय आपको जो मिला है उसकी सराहना करें।
  • कभी भी दूसरों की हीनता या खुशी को मत देखो और कभी भी हीन महसूस मत करो। दुनिया में ऐसे कई लोग होंगे, जिनके पास आपसे ज्यादा सफलता और पैसा होगा। आप अपना काम कड़ी मेहनत से कर रहे हैं, याद रखें।
  • अपने जीवन के हर पल को पूरी तरह से जीवित रखने के लिए चेतना का निर्माण करें। जीवन में हर समय शिकायत करने से स्थिति नहीं बदलेगी, लेकिन आपकी पीड़ा केवल बढ़ेगी। ऐसी स्थिति में आपके जीवन के अच्छे पल आपसे दूर हो जाएंगे। उनका आनंद लेना अच्छा है।
  • अगर आपको नाटकीय होने से सहानुभूति प्राप्त करने की आदत है, तो इसे तुरंत सुधारने पर ध्यान दें। बहुत से लोग अपने निजी जीवन, अपनी बीमारियों और घरेलू समस्याओं को सबके सामने रखते हैं और सोचते हैं कि इससे लोगों की सहानुभूति हासिल होगी। हालाँकि उनके पीछे ये लोग इस आदत का मज़ाक उड़ाते हैं, क्योंकि हर किसी को ये समस्याएँ नहीं हैं, हर किसी को अपना ध्यान आकर्षित करने का तरीका नहीं है।

Lifestyle Tips in Hindi – बेहतर और हेल्दी जीवन के लिए टिप्स

  • लोगों के बारे में समान धारणा नहीं बनाते हैं। हर किसी को एक ही पैमाने पर न तौलें। प्रत्येक स्थिति अलग होती है और लोग अलग-अलग स्थितियों में अलग-अलग प्रतिक्रिया देते हैं। उसी बिंदु को याद न रखें और उसी दृष्टिकोण को सही ढंग से लें।
  • हर चीज को दिल से न जोड़ें या व्यक्तिगत रूप से न लें। चुटकुले सहन करना सीखें अन्यथा आप एक नकारात्मक व्यक्ति के रूप में जाने जाएंगे और लोग आपसे दूर रहकर ही आपकी अच्छाई को समझेंगे
  • छुट्टी के दिन पूरे दिन आलसी न हों और टीवी या कंप्यूटर पर न फंसें। परिवार के साथ समय बिताना। कहीं बाहर घूमने जाएं। वार्तालाप करें बच्चों को समय दें।
  • लोग अक्सर संदेश देते समय फोन पर एक संदेश पढ़ने या टाइप करने के लिए अपनी गर्दन झुकाते हैं लेकिन यह तरीका गलत है। इससे गर्दन में अकड़न और दर्द हो सकता है।
  • जंक फूड कम खाएं। यह न केवल मोटापा बढ़ाता है, बल्कि इसमें कार्सिनोजन भी होता है।
  • अक्सर लोग कानों को साफ करने के लिए अपने बाल पिन, पेन या पेंसिल का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन यह खतरनाक हो सकता है। सबसे सुरक्षित तरीका यह है कि कानों को उंगलियों से तौलिये से पोछें या कान की बूंदों का उपयोग करें।
  • अपने वजन को नियंत्रित करने के लिए एक स्वस्थ जीवन शैली का पालन करें। यदि आप अधिक वजन वाले हैं, तो उच्च रक्तचाप, मधुमेह, स्ट्रोक या हृदय रोग जैसे जोखिम वाले कारकों पर ध्यान दें।
  • प्रत्येक व्यक्ति की ज़रूरतें और शरीर की घड़ी अलग-अलग होती है, उसके अनुसार आहार और अभ्यास की योजना बनाते हैं। अपने साप्ताहिक आहार योजना के साथ एक चार्ट बनाएं।

Lifestyle Tips in Hindi – बेहतर और हेल्दी जीवन के लिए टिप्स

यहाँ और पढ़ें :

  • अपने आहार से संतृप्त वसा और ट्रांस वसा की मात्रा कम करें। लाल मांस, डेयरी खाद्य पदार्थ, तले हुए और बेक्ड खाद्य पदार्थ, कैंडी और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ कम करें।
  • विभिन्न प्रोटीन लें। ये आपको बीन्स, नट्स, बीज, टोफू, सोया उत्पादों में मिल जाएंगे। कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ जैसे दूध, छाछ और दही का सेवन करें। इसके अलावा, हरी सब्जियां कैल्शियम का अच्छा स्रोत होती हैं।
  • खाने से बचें। हमेशा अपनी भूख से थोड़ा कम खाएं। जब हम अपना पसंदीदा भोजन देखते हैं तो अक्सर हम अधिक खाते हैं, लेकिन हम ऐसा नहीं करते हैं।
  • बहुत सारे पेन किलर न खाएं। अक्सर सिरदर्द या खराब सिरदर्द के साथ हम कोई भी दर्द निवारक दवा लेते हैं जो हानिकारक हो सकती है। घरेलू उपचार की कोशिश करना या डॉक्टर से परामर्श करना सबसे अच्छा है।
  • सप्ताहांत पर एक मालिश प्राप्त करें यह थकान को कम करेगा और रक्त परिसंचरण में सुधार करेगा।
  • छुट्टी की योजना बनाएं और आउट स्टेशन पर जाएं, क्योंकि आप न केवल हवा और पानी को बदलकर तरोताजा हो जाते हैं, बल्कि पेट की बीमारियों को भी कम कर सकते हैं।
  • नियमित स्वास्थ्य जांच भी करवाएं। कभी-कभी मधुमेह या उच्च रक्तचाप जैसी बीमारियाँ साल-दर-साल पकड़ी जाती हैं।
  • रात को आंखों में गुलाब जल डालें या गुलाब जल में एक कपास झाड़ू भिगोएँ और आंखों पर रखें। यह आंखों की थकान को कम करता है।
  • सभी को एक साथ रखना असंभव है। अगर आपको लगता है कि कुछ लोग आपके लाख प्रयासों के बावजूद आपको नापसंद करते हैं, तो यह उनकी समस्या है। इसके लिए खुद को दोषी न मानें और खुश रहना सीखें। यह बहुत अच्छी तरह से समझना चाहिए कि हर कोई एक साथ खुश नहीं रह सकता।
  • अपने नियंत्रण से बाहर की चीज़ों के लिए दबाव लेना बुद्धिमानी है, जैसे कि – आप समय पर घर से निकल जाते हैं, लेकिन ट्रेन या बस देर से आती है या ट्रैफ़िक बहुत अधिक, भारी बारिश या किसी अन्य कारण से। तनाव न लें, क्योंकि यह सिर्फ आपका विषय नहीं है और यह आपके पिता भी नहीं हैं।
  • कंप्यूटर पर लगातार काम न करें, यह आंखों, कंधों और गर्दन को प्रभावित करता है। बार-बार ब्रेक लें। कुछ सेकंड के लिए अपनी आँखें बंद करें और गर्दन और कंधों को भी आराम दें।

Lifestyle Tips in Hindi – बेहतर और हेल्दी जीवन के लिए टिप्स

  • अपने मोबाइल पर हमेशा व्यस्त रहें। परिवार के साथ या जब चलते हैं, तो मोबाइल बंद करना सबसे अच्छा होता है।
  • स्वच्छता का ध्यान रखें। व्यक्तिगत स्वच्छता के लिए मौखिक न केवल आपके व्यक्तित्व के लिए बल्कि आपके अच्छे स्वास्थ्य के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है।
  • खाना खाने से पहले और खाना पकाने से पहले अपने हाथों को साबुन से धोएं।
  • खांसते और छींकते समय हाथ या रूमाल रखें।
  • बिस्तर पर जाने से पहले ब्रश अवश्य करें।
  • घर में वेंटिलेशन अच्छा होना चाहिए। दिन के समय खिड़कियां खुली रखें ताकि ताजी हवा और भरपूर रोशनी हो। यदि आवश्यक हो तो एसी का उपयोग करें और समय-समय पर इसे साफ करें।
  • हर चीज में व्यवधान डालना या दूसरों की गलतियों को दूर करना बंद करें। इससे आपकी झुंझलाहट बढ़ेगी और लोग आपको एक नकारात्मक व्यक्ति के रूप में मानेंगे।
  • तुम्हारी। हर दिन अपनी टू-डू लिस्ट को अपडेट करें, यानी दिन भर में आपको जो करना है उसकी लिस्ट बना लें।
  • हमेशा। इसे हमेशा आराम से चबाकर खाएं यह आपके स्वास्थ्य और पाचन ऊर्जा के लिए अच्छा होगा
  •  पढ़ने की आदत विकसित करें, यानी हर दिन एक अच्छी किताब, अच्छा साहित्य पढ़ें। यह न केवल आपके ज्ञान को बढ़ाएगा, बल्कि आपकी रचनात्मकता को भी सकारात्मक तरीके से बढ़ाएगा।

यहाँ और पढ़ें :

  • अखबार पढ़ें या समाचार देखें, ताकि आपकी जानकारी अपडेट हो।
  •  जब बैठते हैं, तो अपने पैरों को काटने के लिए सावधान रहें, क्योंकि यह रक्त परिसंचरण में हस्तक्षेप कर सकता है, जिससे पीठ दर्द, पीठ दर्द, साथ ही वैरिकाज़ नसों और मकड़ी नसों के साथ समस्याएं हो सकती हैं।
  • घुटने के बजाय अपनी टखने को पार करना बेहतर है।
  • बहुत ऊँची एड़ी के जूते मत पहनो। 2 इंच से अधिक हील्स पहनने से आपकी सेहत खराब हो सकती है।
  • अपने विचारों और संचार को हमेशा सकारात्मक और प्रगतिशील रखें। नकारात्मक विचारकों के साथ बहुत ज्यादा बात न करें।
  • इसे रात को जल्दी सोने और सुबह जल्दी उठने की आदत बनाएं।
  • हल्का अभ्यास करें और स्वस्थ नाश्ता करें।
  • कभी ऑफिस घर न लाएं। वहां दबाव डालें, तनाव को वहीं छोड़ दें। अपने परिवार के साथ का आनंद लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *