Content Marketing Kya Hota Hai In Hindi

Content marketing kya hai aur Content marketing kaise kare, कंटेंट मार्केटिंग कैसे करें? इसके बारे में कुछ न कुछ जरुर सुना होगा ।

आज के युग में विज्ञापन का प्रकार बदल रहा है। प्रोडक्ट्स ब्रांडिंग अब विज्ञापन तक सीमित नहीं है। इसके बजाय, वे टीवी शो से लेकर फिल्म अभिनेताओं तक कंपनी के प्रोडक्ट्स का प्रचार कर रहे हैं।

यदि आप किसी व्यवसाय, मार्केटिंग या विज्ञापन जगत से इंटरैक्ट करते हैं। तो आपको कंटेंट मार्केटिंग के बारे में कुछ पता होना चाहिए। लेकिन सवाल यह है कि कंटेंट मार्केटिंग क्या है?

 कंटेंट क्या है?

कंटेंट का अर्थ कुछ ऐसा है जिसे दर्शक कुछ जानकारी या ज्ञान प्राप्त करने के लिए पढ़ता है, सुनता है या देखता है। इसे कंटेंट कहा जाता है। कंटेंट एक लेख के साथ-साथ वीडियो, ऑडियो या चित्र भी हो सकती है।

यह भी कह सकते हैं कि हम इंटरनेट पर जो पढ़ते हैं, सुनते हैं या देखते हैं। वे सभी कंटेंट हैं। अगर आप अभी मेरा यह लेख पढ़ रहे हैं तो यह सिर्फ एक कंटेंट है।

यहाँ और पढ़ें : what-is-email-marketing-in-hindi-benefits-of-marketing

यहाँ और पढ़ें : network-marketing-in-hindi-all-details-business-plan

कंटेंट मार्केटिंग क्या है? Content marketing kya hai?

कंटेंट मार्केटिंग डेफेनिटेशन – ट्रेडिशनल और मॉडर्न मार्केटिंगके कॉम्बिनेशन को कंटेंट मार्केटिंग कहा जाता है। एक मूल्यवान और रचनात्मक सामग्री बनाना और प्रिंट, टेलीविजन, सोशल मीडिया या ऑनलाइन मीडिया के माध्यम से इसका प्रचार करें।

ताकि लोगों को उस प्रोडक्ट के बारे में बेहतर जानकारी मिल सके। और वे आप पर भरोसा कर सकते हैं। ताकि वे आपके साथ व्यापार कर सकें।

लेकिन कंटेंट ऐसा होना चाहिए कि ब्रांड या क्लाइंट के बीच ग्राहकों की रुचि पैदा हो। वे इंडस्ट्री के ट्रेंड्स के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। सूचना का यह संचार टीवी विज्ञापन, ऑनलाइन विज्ञापन, सोशल मीडिया, मोबाइल मैसेजिंग, किसी भी माध्यम से किया जा सकता है।

कंटेंट मार्केटिंग से क्या क्या फायदे है

(1) : वेबपेज: कंटेंट मार्केटिंग वेबपेज और सामान्य वेबपेज के बीच कई अंतर हैं। क्योंकि किसी भी वेबपेज को अच्छे से लिखने के बाद SEO को ठीक से ऑप्टिमाइज़ करना भी बहुत जरूरी है। तब लोग आपकी ओर आकर्षित होंगे। जो आपके ब्रांड और बिजनेस के लिए उपयोगी है।

(2) : इन्फोग्राफिक्स: ये लंबे वर्टिकल ग्राफिक्स हैं। आपने स्थानीय बाजारों, दुकानों, टीवी विज्ञापनों, विज्ञापनों आदि में बैनर और लोगो देखे होंगे जो किसी प्रोडक्ट या कंपनी का प्रतीक होते हैं।

इन्फोग्राफिक्स में सांख्यिकी, चार्ट, ग्राफ और अन्य जानकारी लिखी जाती है। इनमें इमेज के साथ-साथ इनसे जुड़ी जानकारियां भी शेयर की जाती हैं। इंफो ग्राफिक्स किसी भी मार्केटिंग के लिए बहुत उपयोगी होते हैं।

(3) : इमेज: किसी प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए उसकी इमेज बनाते हैं। तो वह तस्वीर उस प्रमोट को सही ठहराती है। यानी यह उस प्रमोट के बारे में जानकारी प्रदान करता है। ताकि आपके ब्रांड की वैल्यू बढ़े।

(4) : वीडियो: ऐसा कहा जाता है कि वीडियो टेक्स्ट से ज्यादा उपयोगी और दिलचस्प होते हैं। क्योंकि वीडियो दूर के ग्राहक आपके कंटेंट को अच्छी तरह से जानते और समझते हैं।

जब हम अपने प्रोडक्ट की जानकारी वीडियो के रूप में साझा करते हैं। तो ग्राहकों के मन में भी आपके कंटेंट में विश्वास पैदा होता है। जिससे आपके ब्रांड की वैल्यू भी बढ़ती है। जो आपके बिजनेस के लिए बहुत जरूरी है।

(5) : टेक्स्ट कंटेंट: कंटेंट मार्केटिंग के लिए टेक्स्ट एक बहुत अच्छा और उपयोगी तरीका है। क्योंकि किसी भी प्रोडक्ट के बारे में अच्छा कंटेंट लिखकर आप लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर सकते हैं। आप टेक्स्ट की सामग्री में उद्धरण, कहानियां या पैराग्राफ भी शामिल कर सकते हैं।

कंटेंट मार्केटिंग क्यों महत्वपूर्ण है?

लोग यह सवाल पूछते हैं कि कंटेंट मार्केटिंग क्यों जरूरी है? ( Why is content marketing important?) इससे हमें क्या हासिल (फायदा) होगा? देखा जाए तो जिस तरह से आजकल पूरी दुनिया में डिजिटल मार्केटिंग धाक जमा रही है ।

आगे क्या होगा इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। तकनीक में बदलाव के कारण लेकिन कंटेंट मार्केटिंग की मूल बातें नहीं बदलेगी।

हम सभी जानते हैं कि प्रतिस्पर्धा का स्तर दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है। तो अगर आपको यह रेस उतनी ही पसंद है। इसलिए आपको समय के साथ बदलना होगा। क्‍योंकि हम सभी भली भांति जानते हैं कि आप जो देखते हैं वह बिकता है।

निष्कर्ष

अगर आपको मेरा आर्टिकल Content Marketing kya hota hai? अच्छा लगता है। तो आप इस जानकारी को अपने प्रियजनों के साथ सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, ट्विटर आदि पर जरूर शेयर करें ताकि उन्हें भी इसके बारे में पता चल सके।

यहाँ और पढ़ें : affiliate-marketing-websites-for-students-in-hindi

यहाँ और पढ़ें : affiliate-marketing-kya-hai-aur-kaise-kare-in-hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *