Kari Patta Khane Ke Fayde aur Nuksan

Kari patta  : यह एक आयुर्वेदिक औषधीय पौधा है जो आमतौर पर सब्जियों में मीठा सुगंध और स्वाद लाने के लिए उपयोग किया जाता है। इसमें जिंक और कॉपर की मात्रा अधिक होती है।

अधिकांश भारतीय इसका उपयोग दक्षिण भारतीय व्यंजनों में करते हैं। करी पत्ते को हिंदी में मीठी नीम भी कहा जाता है, साथ ही मराठी में कढ़ी पत्ते भी। इसमें कई पोषण गुण होते हैं, करी पत्ते के फायदे बालों के लिए बेहद फायदेमंद साबित होते हैं।

करी पत्ता क्या है ?

यह एक औषधीय पौधा है जिसे मुराया कोएनिजी (Murraya koenigii) कहा जाता है। करी के पत्तों का उपयोग कई प्रकार से किया जाता है, यह पौधा अक्सर लोगों के घरों में पाया जाता है,

जो कि ज्यादातर करी और सब्जियों, दालों और स्नैक्स को रखने के लिए उपयोग किया जाता है, जो पदार्थ के स्वाद और गंध की मदद करते हैं। ।

सब्जियों की पत्तियों में बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं जो शरीर को बीमारियों से दूर रखने में मदद करते हैं। आज के डॉक्टर अक्सर करी पत्ता खाने की सलाह देते हैं।

यहाँ और पढ़ें : Beauty tips for face

यहाँ और पढ़ें : Home remedies for glowing skin

करी पत्ते के फायदे – Benefits Of Curry Leaves

करी पत्ते में फाइबर, कैल्शियम, फास्फोरस, लोहा, शर्करा और अन्य होते हैं जो शरीर के स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। हालाँकि, करी पत्ते के कई प्रकार के लाभ आपको मधुमेह, मोटापे, त्वचा, बालों की समस्याओं, गुर्दे के दर्द, एनीमिया और कई अन्य बीमारियों और उपचारों से दूर रखने में मदद करते हैं।

प्रोटीन से भरपूर करी पत्ते के फायदे

सब्जियों के पत्ते प्रोटीन से भरपूर होते हैं जो शरीर के विकास के लिए एक उपयुक्त घटक है। शरीर को पाचन की हमारी क्षमता को विकसित करने और बढ़ाने के लिए प्रोटीन की आवश्यकता होती है।

फाइबर की उच्च मात्रा

फाइबर को करी पत्तों के स्रोतों में से एक माना जाता है। रक्त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करने के अलावा, यह नियमित रूप से पाचन स्वास्थ्य और आंतों की गतिशीलता में सुधार करता है।

करी पत्ते में मौजूद कैल्शियम का महत्व

करी पत्ते में अन्य पोषक तत्वों की तुलना में कैल्शियम सबसे प्रचुर मात्रा में होता है और यह कैल्शियम आपके शरीर की हड्डियों और दांतों को पूरी तरह से विकसित और मजबूत रखने में मदद करता है।

तेलों को पूर्ति के लिए Kari patta ke fayde

खनिज और विटामिन के अलावा, शरीर को अन्य तेलों की आवश्यकता होती है जो पूरी तरह से वनस्पति पत्तियों में मौजूद होते हैं।

आपको बता दें कि करी पत्ते पिन-पिनीन (α-Pinene), Sabinin, Ter-Terpinene (Ter-Terpinene), β-Pinene (pin-pinene) आदि बैक्टीरियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-डायबिटिक गुणों से भरपूर होते हैं। शरीर के लिए अच्छा है। बहुत उपयोगी है।

मधुमेह को नियंत्रित करें

करी पत्ते में पाया जाने वाला हाइपोग्लाइसेमिक नामक एक घटक रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

करी पत्ते खाने से शरीर में मौजूद इंसुलिन और अग्नाशय कोशिकाओं को सक्रिय करने में मदद मिलती है। इसके अलावा यह ग्लूकोज में स्टार्च की मात्रा को कम करने में मदद करता है जो रक्त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करने में मदद करता है।

संक्रमण को रोकने में करी पत्ते के फायदे

रोग प्रतिकारक शक्ति प्रणाली के कारण, लोगों को अक्सर संक्रमण से निपटना पड़ता है, करी पत्ते से इस समस्या को हल किया जा सकता है।

सब्जियों के पत्तों में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-बैक्टीरियल, एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-फंगल गुण होते हैं जो शरीर को बाहरी संक्रमण और कीटाणुओं का विरोध करने की ताकत देते हैं।

कैंसर से बचने में करी पत्ता फायदेमंद है

शोधकर्ताओं ने पाया है कि प्रोस्टेट कैंसर और कोलोरेक्टल कैंसर जैसी बीमारियों की रोकथाम के लिए करी कंटेनर में कार्बाज़ोल एल्कलॉइड और फिनोल की मौजूदगी काफी हद तक फायदेमंद है। यह शोधकर्ताओं द्वारा की गई एक महत्वपूर्ण और महत्वपूर्ण खोज थी।

वजन कम करने के लिए Kari patta 

वजन कम करने के तरीकों में करी पत्ते को एक वरदान माना जाता है। मैं आपको बता रहा हूं कि करी पत्तों में कार्बाज़ोल अल्कलॉइड्स की मौजूदगी रक्त में एलडीएल की मात्रा को कम करती है, जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालती है और शरीर के अतिरिक्त वसा को जलाने में वजन घटाने में मदद करती है।

दांतों और हड्डियों के लिए करी पत्ते का इस्तेमाल करें

कैल्शियम के अलावा, करी पत्ते में एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो मुंह में कीटाणुओं को नष्ट करने में मदद करते हैं, साथ ही हड्डियों में चिकनाई बनाए रखने के लिए पत्तियों में मौजूद कैल्शियम और आवश्यक तेल भी होते हैं। हड्डियों के बीच घर्षण कम होता है।

यहाँ और पढ़ें : Weight loss tips in hindi

यहाँ और पढ़ें : Best benefits of drinking hot water in hindi

पाचन के लिए मीठे नीम के फायदे

अक्सर लोगों को पेट की गैस (गैस्ट्रो) जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है जिसके कारण उन्हें एसिडिटी और पाचन संबंधी समस्याएं हो जाती हैं। आपको बता दें कि करी पत्ते में एंटीमैटिक और एंटी-डायसेन्ट्रिक गुण होते हैं जो नियमित रूप से पाचन तंत्र को नियंत्रित करते हैं।

बालों के लिए Kari patta के तेल के फायदे

करी पत्ता हेयर एप्लीकेशन के फायदे एक तरह का घरेलू नुस्खा है जो बहुत फायदेमंद है। टूटना जब आपके बाल और बाल बहुत पतले होते हैं, साथ ही रूसी और सफेद भी होते हैं।

इसलिए करी पत्ता खाना आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके लिए प्रतिदिन करी पत्ते के कोमल पत्तों का सेवन करें।

त्वचा के लिए मीठे नीम के फायदे

करी पत्ता पाउडर त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होता है। प्राचीन समय में, करी पत्ते का उपयोग चेहरे को चमकदार बनाने के लिए किया जाता था। यह पिंपल्स, निशान, डार्क स्पॉट, झुर्रियों आदि जैसी समस्याओं से छुटकारा पाने में मदद करता है।

करी पत्ता फेस पैक बनाने के लिए, करी पत्तों को सुखा लें और इसे ग्रिल करें और अब इसमें एलोवेरा और गुलाब जल मिलाएं। इस तैयार फेस पैक को अपने चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट के बाद अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।

दिल की बीमारी से बचे रहने के लिए मीठे नीम के फायदे

उच्च रक्त कोलेस्ट्रॉल अक्सर हृदय रोग जैसी समस्याओं का कारण बनता है। जानकारी के लिए, हालांकि, करी पत्ते में रक्त कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो शरीर को खराब कोलेस्ट्रॉल को नष्ट करने में मदद करता है जो दिल के दौरे जीसी रोग को रोकने में मदद करता है।

करी पत्ता (Curry tree ) में पाये जाने वाले पोष्टिक तत्व

एनर्जी                 :  108 Kcal

फाइबर              :  6.4gm

प्रोटीन                :  6.1gm

कैल्शियम           :  830mg

फॉस्फोरस          :  57mg

आयरन              :  0.93mg

मेग्नेसियम           :  44mg

कैरोटीन             :  7560µg

नियासिन            :  2.3mg

रैबोफ्लाविन        :  0.210mg

फोलिक एसिड        :  23.5µg

विटामिन-सी       :  4mg

करी पत्ते (Kari patta) का सेवन कैसे करें

ज्यादातर लोग करी पत्ते को भोजन से अलग रखते हैं, जिसके कारण शरीर को आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं।

आप दाल और सब्जियों के साथ करी पत्ते खा सकते हैं, दाल और सब्जियों में करी पत्ते का उपयोग सब्जियों के पोषण और सुगंध को बढ़ाता है।

आप सुबह के नाश्ते के रूप में करी पत्ते खा सकते हैं, जो नाश्ते की सुगंध में शामिल होता है।

करी पत्ते का उपयोग करी बनाने के लिए किया जाता है, करी पत्ते को करी के साथ खाया जा सकता है।

आप करी पत्ते और मीठे नीम को टमाटर, ककड़ी, मूली और अन्य सॉस के साथ मिलाकर खा सकते हैं।

कढ़ी पत्ते को चीरा में खाया जा सकता है जो चिबाड़ा को अधिक स्वादिष्ट बनाता है।

तुलसी के पत्तों की तरह करी पत्तों को भी पानी में धोया जा सकता है।

करी पत्ता के नुकसान – Kari patta ke nuksan

अब तक आपने करी पत्ते के फायदों के बारे में पढ़ा होगा।

कई बार लोग अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए किसी भी चीज का अधिक सेवन करते हैं जो शरीर के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। इस प्रकार, करी पत्ते का उपयोग भी आवश्यक होना चाहिए।

आमतौर पर करी पत्ते खेलने से कोई दुष्प्रभाव और साइड इफेक्ट नहीं होता है। हालांकि, शरीर के स्वास्थ्य के लिए बहुत अधिक उपभोग न करें, क्योंकि कुछ स्थितियों में, जैसे कि शरीर के उपचार के दौरान, उनका सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक भी हो सकता है।

यदि आप बालों के लिए करी पत्ते के तेल का उपयोग करते हैं और यह अभी भी आपके बालों को गिरने से नहीं रोकता है, तो तुरंत तेल लगाना बंद कर दें।

गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को करी पत्ते का इस्तेमाल बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं करना चाहिए। करी पत्ते का सेवन महिलाओं के लिए हानिकारक हो सकता है।

यहाँ और पढ़ें : Body immunity kaise badhaye

उपसंगार

आपको Kari patta khane ke fayde aur nuksan, जो हमें दिखाता है कि करी पत्ते हमारे दैनिक जीवन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। जब इसका सेवन किया जाता है तो शरीर को ढेर सारे पोषक तत्व मिलते हैं।

इसके लिए खाने में करी पत्ता और मीठी नीम मिलाएं और इसे साइड से न निकालें। वनस्पति पत्ती की कमी के बारे में जानकारी का प्रमाण नहीं मिला है, इसलिए इसे शरीर की नियमित आवश्यकताओं के अनुसार किया जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.