Drumstick In Hindi – Sahjan Ke Fayde

Drumstick In Hindi: Drumstick को मोरिंगा (Moringa) और सहजन (Sahjan) भी कहा जाता है। सहजन के बीज के अलावा, इसके तने और पत्तियों के भी कई उपयोग और लाभ होते हैं।

सहजन में बहुत सारे पोषक तत्व और विटामिन होते हैं। यह पोटेशियम और विटामिन सी से भी भरपूर होता है। सहजन के डब्बों के फायदों के बारे में तो आप जानते ही हैं, लेकिन इसके पत्ते भी कम उपयोगी नहीं हैं (Drumstick Leaves Benefits in Hindi).

यह वजन कम करने के लिए भी जाना जाता है। सब्जियों, दाल, सांभर आदि का स्वाद और सुगंध बढ़ाने के लिए आप सहजन के पत्तों का उपयोग कर सकते हैं।

ड्रमस्टिक (Drumstick) क्या है?

दुनिया के कुछ हिस्सों में खाने के लिए सहजन एक महत्वपूर्ण पौधा है। इसे उगाना बहुत आसान है और इसलिए यह बहुत सस्ता है। सहजन एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर एक बायोएक्टिव पौधा है, जिसके पत्ते विटामिन और खनिजों से भरपूर होते हैं।

डॉक्टरों द्वारा कुपोषण से लड़ने की भी सलाह दी जाती है। वैज्ञानिकों ने शोध किया है और सहजन में कई स्वस्थ तत्व पाए हैं। ड्रमस्टिक (ice cream drumstick in hindi) को पालक की तरह पकाया जाता है और पाउडर के रूप में इस्तेमाल किया जाता है।

Benefits of drumstick in hindi

मोरिंगा में विशेष एंटीवायरल, एंटीफंगल, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-डिप्रेसेंट गुण होते हैं, जो विभिन्न स्थितियों में स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं। ड्रमस्टिक के मुख्य लाभों में निम्नलिखित शामिल हैं:

सहजन हड्डियों को मजबूत बनाता है

सहजन कैल्शियम और फास्फोरस से भरपूर होता है, जो हड्डियों को स्वस्थ रखने में मदद करता है। जिन लोगों को गठिया, ऑस्टियोआर्थराइटिस या हड्डी से जुड़ी कोई अन्य बीमारी है, उनके लिए सूप खाना बहुत फायदेमंद होता है। drumstick recipe in hindi.

ड्रमस्टिक से करें पेट संबंधी समस्याओं का इलाज

सहजन में कई शक्तिशाली पदार्थ होते हैं जो पेट की बीमारियों जैसे गैस्ट्राइटिस और अल्सरेटिव कोलाइटिस के इलाज में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, इसमें विटामिन बी और कई अन्य आवश्यक तत्व होते हैं, जो पाचन प्रक्रिया को तेज करने में मदद करते हैं।

उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करें

उच्च रक्तचाप के रोगियों को इसके पत्तों के रस में काढ़ा मिलाकर पीने से लाभ होता है। इसके साथ इसका काढ़ा पीने से घबराहट, चक्कर आना और उल्टी में भी आराम मिलता है।

 कैल्शियम का स्रोत

सहजन की फली कैल्शियम से भरपूर होती है, जो बच्चों के लिए बहुत फायदेमंद होती है। इससे हड्डियां और दांत दोनों मजबूत होते हैं। यदि गर्भवती महिलाओं को यह दिया जाता है, तो उनके अजन्मे बच्चों को कैल्शियम मिलता है और बच्चा स्वस्थ हो जाता है। chicken drumstick recipe in hindi.

मोटापा कम करे

मोटापे और शरीर की चर्बी बढ़ाने के लिए लाभकारी औषधि मानी जाती है। इसमें भरपूर मात्रा में फॉस्फोरस होता है, जो शरीर को अतिरिक्त कैलोरी कम करने में मदद करता है और साथ ही फैट कम करके मोटापा कम करता है।

सहजन का सेवन रखे त्वचा को रोगमुक्त

मोरिंगा के बीजों से प्राप्त तेल त्वचा और बालों दोनों को मुक्त कणों से बचाता है। सहजन में एक विशेष प्रकार का प्रोटीन भी होता है जो कोशिकाओं को क्षति से बचाता है। drumstick in hindi vegetable.

सहजन सूजन और लालिमा को दूर करता है

सहजन में कई शक्तिशाली यौगिक होते हैं जो शरीर में विरोधी भड़काऊ एजेंट के रूप में कार्य करते हैं। जिन लोगों को शरीर के अंदर सूजन की समस्या होती है (जैसे गठिया) उनके लिए सहजन बहुत मददगार हो सकता है।

हालांकि, ऊपर बताए गए सहजन के फायदे आमतौर पर अध्ययन पर आधारित होते हैं और इनमें से कुछ अध्ययन जानवरों पर किए जाते हैं। साथ ही प्रत्येक व्यक्ति का शारीरिक स्वभाव भी अलग-अलग होता है इसलिए सहजन पर मौजूद तत्वों का उनके शरीर में प्रभाव भी अलग-अलग हो सकता है।

सिरदर्द से राहत

सहजन के पत्तों का लेप घाव पर लगाकर सब्जी की तरह खेलने से सिर दर्द में आराम मिलता है। साथ ही सहजन के सेवन से खून साफ होता है, आंखों की रोशनी बढ़ती है। सहजन की फली बजाने से गर्भवती महिलाओं को प्रसव के दौरान ज्यादा दर्द नहीं होता है।

Side effects of Drumstick tree in hindi

हालांकि पर्याप्त मात्रा में सहजन खाना सुरक्षित माना जाता है, लेकिन इसे खाने से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। क्योंकि इसके प्रभाव प्रत्येक व्यक्ति के शारीरिक प्रभावों के अनुसार अलग-अलग हो सकते हैं।

यदि सहजन का अधिक मात्रा में सेवन किया जाए तो इससे पेट खराब हो सकता है और कुछ लोगों को सहजन से एलर्जी हो सकती है। अगर आप पहली बार सहजन खाने जा रहे हैं तो पहले डॉक्टर से सलाह लें।

How to use Drumstick tree in hindi

सहजन का उपयोग प्राचीन काल से कई स्वास्थ्य समस्याओं के घरेलू उपचार के रूप में किया जाता रहा है। सहजन के पेड़ की जड़ों, पत्तियों, टहनियों और फलियों का इस्तेमाल कई तरह की दवाएं बनाने में किया जाता है। इतना ही नहीं आजकल सहजन से कई स्वादिष्ट व्यंजन भी बनाए जा रहे हैं। सहजन का प्रयोग निम्न प्रकार से किया जा सकता है –

  • सहजन के पत्तों को पानी में उबाल लें
  • चटनी बनाओ
  • अन्य सब्जियों के साथ पकाया जाता है

हालांकि, आप अपनी सेहत के हिसाब से कितनी सहजन खा सकते हैं, यह जानने के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

यहाँ और पढ़ें : Fluconazole Tablet Uses in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.